हम सेलेक्टिव एक्टिविज्म क्यों करते हैं?

अफज़ल गुरु के लिए मानवाधिकार की दुहाई देने वाले, संसद हमले में शहीद पुलिसवालों की बात क्यों नहीं करते और उन पुलिस अधिकारियों के घरवालों के प्रति सहानुभूति रखने वालों को अफज़ल गुरु के घरवाले क्यों नहीं दिखाई देते?

View

जब पिता दोस्त जैसे हों !

मेरे पिताजी और मेरे बीच आयु का फासला लगभग 42 साल का था. कहते हैं एक पीढ़ी के बाद पीढ़ी अंतराल घट जाता है. इसलिए हमलोग दोस्त ज़्यादा थे, पिता-पुत्री कम. मैं उनसे ‘तुम’ करके बात करती थी और बराबर लड़ाई और बहस करती रहती थी.

View