गूगल प्लस चित

टेक्नोलॉजी कंपनी गूगल से सोशल नेटवर्किंग नहीं हो सकती, यह साबित हो गया है. अप्रैल 2019 में गूगल प्लस सेवा बंद होने जा रही है.

गूगल प्लस (जिसे गूगल+ या G+ के रूप में भी जाना जाता है) गूगल की सोशल नेटवर्किंग सेवा थी.

इससे पहले कंपनी ने ऑरकुट और बज़ नामक सोशल नेटवर्किंग सेवा बंद की थी. प्रौद्योगिकी दिग्गज का इस तरह चारों खाने चित होना हैरानी का विषय है.

हालात ऐसे हैं कि गूगल के ब्लॉगिंग प्लेटफार्म ‘ब्लॉगर डॉट कॉम’ और वीडियो सर्विस हैंग आउट पर भी अब सवाल खड़े हो सकते हैं.

यदि आप जीमेल का उपयोग कर रहे हैं, तो आपके पास एक गूगल प्लस अकाउंट होगा. गूगल ने तो कई बार उपभोक्ताओं को गूगल प्लस सेवा शुरू करने के लिए हथकंडे भी अपनाए थे.

लेकिन, उपभोक्ताओं की अपेक्षाओं को पूरा करने में असफल रहने के बाद गूगल को अपनी यह सेवा बंद करने पर मजबूर होना पड़ा है.

गूगल के अनुसार इस सोशल नेटवर्किंग सेवा को बनाए रखने में कई चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा था.

इस साल 2 अप्रैल को, आपका गूगल प्लस खाता और आपके द्वारा बनाया गया कोई भी गूगल प्लस पेज बंद हो जाएगा.

धीरे-धीरे गूगल अपने उपभोक्ताओं के खातों से फोटो व अन्य सामग्री हटाना शुरू करेगा. गूगल प्लस से आप अपनी सामग्री को डाउनलोड कर सकते हैं. बस अप्रैल से पहले ऐसा करना सुनिश्चित करें.

सोशल नेटवर्किंग की बात करें तो G+ कभी भी फेसबुक या ट्विटर की ऊंचाइयों तक नहीं पहुंच पाया.

गूगल प्लस मूल रूप से जून 2011 के अंत में लांच हुआ था. इस ब्रांड को इस तरह से लांच किया गया था कि लोग केवल ईमेल द्वारा आमंत्रण प्राप्त करके इससे जुड़ सकते थे.

अब अपने ताज़ा मेल में उपभोक्ताओं को सूचित करते हुए गूगल ने लिखा, “हम आपको गूगल प्लस का हिस्सा होने के लिए धन्यवाद देना चाहते हैं.”

हां, यदि आप एक जी सूट ग्राहक हैं, तो आपके जी सूट खाते के लिए गूगल प्लस सक्रिय रहना चाहिए.

भारत बोल रहा है