क्रिकेट में तुरुप के पत्ते

इंग्लैंड की जमीन पर 30 मई से होने वाले एकदिवसीय विश्व कप के लिए भारतीय टीम लगभग तय हो गई है.

ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के दौरों ने भारतीय टीम के 15 सदस्यों को तय करने का काम किया है. इन सदस्यों पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पांच वनडे मैचों की घरेलू सीरीज से मोहर लग जाएगी.

एमएसके प्रसाद की अगुवाई वाली राष्ट्रीय चयन समिति विश्व कप के लिए टीम लगभग तय कर चुकी है. जैसे ही आईसीसी द्वारा विश्व कप के लिए टीम घोषित करने की अंतिम तारीख की घोषणा की जाएगी, टीम इंडिया के सारे पत्ते सामने आ जाएंगे.

चयनकर्ता विश्व कप के लिए 20 खिलाड़ियों का पूल तैयार करेंगे जिनमें से 15 खिलाड़ियों की टीम की घोषणा की जाएगी.

ओपनिंग में देखा जाए तो बाएं हाथ के ओपनर शिखर धवन और वनडे में तीन दोहरे शतक जमा चुके रोहित शर्मा सबसे प्रबल दावेदार हैं.

अजिंक्या रहाणे हाल के अपने शानदार प्रदर्शन से ओपनिंग के तीसरे दावेदार रहेंगे. कप्तानी की जिम्मेदारी विराट कोहली के मजबूत कन्धों पर रहेगी और वह तीसरा नंबर संभालेंगे.

चौथे नंबर के लिए अंबाटी रायुडू ने अपनी जगह पक्की कर ली है. मध्य क्रम में विशेषज्ञ बल्लेबाज के तौर पर युवा ऋषभ पंत का नाम भी शामिल हो गया है, जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज और न्यूजीलैंड में ट्वंटी-20 सीरीज से अपने प्रदर्शन से चयनकर्ता प्रमुख प्रसाद सहित सभी को प्रभावित किया है.

पंत को पहले महेंद्र सिंह धोनी के विकल्प के तौर पर देखा जाता था लेकिन अब वह बाएं हाथ के विशेषज्ञ बल्लेबाज के तौर पर टीम में जगह बना सकते हैं.


  • विकेटकीपिंग के लिए धोनी इस समय सर्वश्रेष्ठ हैं
  • सुनील गावस्कर जैसे दिग्गज की सलाह है कि धोनी को उनके विशाल अनुभव के कारण विश्व कप टीम में रहना चाहिए

धोनी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज में लगातार तीन अर्धशतक जमाने के कारण मैन ऑफ द सीरीज रहे थे. धोनी के बैकअप के लिए टीम में दिनेश कार्तिक रह सकते हैं, जो मध्य क्रम में बल्लेबाज के तौर पर अपनी जगह बना चुके हैं.

आलराउंडर के रूप में हार्दिक पांड्या की जगह पक्की है और न्यूजीलैंड सीरीज में अपने प्रभावशाली प्रदर्शन से विजय शंकर ने खुद को एक आलराउंडर के दावेदार के रूप में पेश किया है.

दो स्पिनर के रूप में लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल और चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव का दावा ख़ासा मजबूत है.

चहल और कुलदीप जब साथ-साथ गेंदबाजी करते हैं तो वे विपक्षी टीम की नाक में दम कर देते हैं.
कप्तान विराट को कलाई के अपने इन दोनों स्पिनरों पर काफी भरोसा है.

यही कारण है कि एक समय देश के शीर्ष ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन लगभग दो साल से सीमित ओवरों की टीम से बाहर है और लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा को भी टीम में अपनी जगह बनानी मुश्किल लग रही है.

अब तो जडेजा को चुनौती देने बाएं हाथ के स्पिन आलराउंडर क्रुणाल पांड्या भी आ गए हैं. तेज गेंदबाजी में जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी का दावा पक्का है.

तेज गेंदबाजी में हार्दिक पांड्या इनका साथ दे सकते हैं. विजय शंकर भी मध्यम गति के तेज गेंदबाज है. उमेश यादव फिलहाल टीम का हिस्सा नहीं हैं लेकिन अपनी जबरदस्त गति के कारण वह भी टीम में जगह बना सकते हैं.

India Cricket Team for World Cup 2019 in England

टीम इस तरह हो सकती है: विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, अजिंक्या रहाणे, अंबाटी रायुडू, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), केदार जाधव, ऋषभ पंत/दिनेश कार्तिक, हार्दिक पांड्या, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव/विजय शंकर.

भारत बोल रहा है