यह भी मेरे देश की मिट्टी

Fiji's emerging writer Shweta Datt Chaudhary

प्रशांत महासागर में द्वीपीय राष्ट्र फ़िजी की युवा लेखिका सुएता दत्त चौधरी ने भारत में पढ़ाई करते हुए ‘यह भी मेरे देश की मिट्टी वह भी मेरे देश की मिट्टी’ कविता संग्रह प्रकाशित किया है.

राजधानी दिल्ली में अपने पुस्तक विमोचन समारोह में उन्होंने अपने पूर्वजों की मातृ भूमि के साथ काव्यात्मक संबंध का वर्णन किया.

निकष प्रकाशन द्वारा प्रकाशित ‘यह भी मेरे देश की मिट्टी वह भी मेरे देश की मिट्टी’ का विमोचन भारत में फ़िजी के राजदूत योगेश पूंजा ने किया.

फ़िजी की युवा लेखिका सुएता दत्त चौधरी के कविता संग्रह का विमोचन.

फ़िजी में नामित भारतीय उच्चायुक्त पद्मजा ने युवा लेखिका को प्रोत्साहित किया.

युवा कवयित्री सुएता दत्त चौधरी बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में हिंदी साहित्य में स्नातकोत्तर की पढ़ाई कर रही हैं.

भारत और फ़िजी गणराज्य ऐतिहासिक और सांस्कृतिक संबंधों से जुड़े हुए हैं. फ़िजी में बसे भारतीय मूल के लोगों की उपस्थिति से दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों में बहुत योगदान मिला है.

भारत बोल रहा है